जेएनयू: भीड़ का हमला, स्ट्रीट लाइट का बंद होना और पुलिस का तमाशबीन होना, सबकुछ सुनियोजित नज़र आया