नहीं, उमर खालिद ने मुंबई के गेटवे ऑफ़ इंडिया पर “हिन्दुओं से आज़ादी” के नारे नहीं लगाए